Connect with us

ad

Chhattisgarh

*छग ही नहीं पड़ोसी राज्यों में भी छाया रहा मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय का जलवा, चुनाव प्रचार के दौरान 53 दिनों में लीं 117 सभाएं, अपने भाषणों में उठाते रहे ये मुद्दे…*

Published

on

IMG 20240510 WA0000

 

जशपुरनगर। अपने निर्विवाद, साफ और सरल छवि के चलते प्रदेश के मुखिया विष्णुदेव साय न केवल छग बल्कि अन्य राज्यों में भी लोकप्रिय हैं। उनकी इसी लोकप्रियता के चलते भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने इस लोकसभा के चुनाव प्रचार में अपना प्रमुख चेहरा बनाया है। मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय का चेहरा और जलवा छत्तीसगढ़ के साथ ही मध्यप्रदेश, ओडिशा और झारखंड में छाया हुआ है। यही वजह है कि लोकसभा चुनाव के दौरान सीएम श्री साय ने कुल 53 दिन में 64 जनसभा समेत कुल 117 सभाएं ली हैं। इस दौरान उनके तेवर पूरी तरह आक्रामक रहे और वे कांग्रेस और इंडिया गठबंधन पर जितने हमलावर रहे उतना ही उन्होंने मोदी सरकार की कल्याणकारी योजनाओं और मोदी की गारंटी की लोगों के बीच चर्चा भी की। दरअसल 20 मार्च से 11 मई तक सीएम साय लगातार चुनावी सभाएं करते रहे। इस दौरान उन्होंने तेज गर्मी और लू की परवाह भी नहीं किया और वे लगातार जनता के बीच जाते रहे। उन्होंने प्रदेश की सभी 11 लोकसभा सीटों पर धुआंधार चुनावी प्रचार कर न सिर्फ आमसभा को संबोधित किया बल्कि कई चुनावी रैलियां भी कीं। वे जहां भी गए जनता का भरपूर स्नेह, प्यार और आशीर्वाद उन्हे मिला। इसके अलावा केन्द्रीय नेतृत्व ने मुख्यमंत्री साय की साफ स्वच्छ छवि का उपयोग छत्तीसगढ़ के बाहर मध्यप्रदेश, ओडिशा और झारखंड में किया। जहां उन्होंने एक के बाद एक 17 आमसभाएं और रोड शो की कमान संभाली।

*छग में कितनी सभाएं*

कार्यकर्ता सम्मेलन – 12
जनसभा व रोड शो – 54
सामाजिक सम्मेलन – 22

*छग के बाहर*

(मध्यप्रदेश, ओडिशा और झारखंड) जनसभा एवं रोड शो – 17
सामाजिक सम्मेलन – 24
कार्यकर्ता सम्मेलन – 11

*400 पार के लिए झोंकी पूरी ताकत*

मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने लोकसभा चुनाव में भाजपा की सीटें 400 से पार करने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। यही वजह है कि आत्मविश्वास से भरपूर मुख्यमंत्री साय छग की सभी ग्यारह लोकसभा में जीत को लेकर आश्वस्त नजर आ रहे हैं। साथ ही श्री साय ने ओडिशा और झारखंड में भी भाजपा के पक्ष में भारी रुझान की बात कह रहे हैं। जानकारी के मुताबिक सीएम साय ने बस्तर में 2 सहित सभी ग्यारह लोकसभा सीटों पर एक-एक कार्यकर्ता सम्मेलन कर कुल बारह कार्यकर्ता सम्मेलनों में अपनी उपस्थिति दी। इसी तरह यदि सामाजिक सम्मेलनों की यदि बात करें तो लगभग 24 बड़े सामाजिक सम्मेलनों को मुख्यमंत्री साय संबोधित कर चुके है। यानी मुख्यमंत्री ने लगभग हर विधानसभा में कम से कम एक जनसभा ली है।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Ad

ad

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Chhattisgarh3 years ago

*बिग ब्रेकिंग :- युद्धवीर सिंह जूदेव “छोटू बाबा”,का निधन, छत्तीसगढ़ ने फिर खोया एक बाहुबली, दबंग, बेबाक बोलने वाला नेतृत्व, बेंगलुरु में चल रहा था इलाज, समर्थकों को बड़ा सदमा, कम उम्र में कई बड़ी जिम्मेदारियां के निर्वहन के बाद दुखद अंत से राजनीतिक गलियारे में पसरा मातम, जिला पंचायत सदस्य से विधायक, संसदीय सचिव और बहुजन हिन्दू परिषद के अध्यक्ष के बाद दुनिया को कह दिया अलविदा..*

Chhattisgarh3 years ago

*जशपुर जिले के एक छोटे से गांव में रहने वाले शिक्षक के बेटे ने भरी ऊंची उड़ान, CGPSC सिविल सेवा परीक्षा में 24 वां रैंक प्राप्त कर किया जिले को गौरवन्वित, डीएसपी पद पर हुए दोकड़ा के दीपक भगत, गुरुजनों एंव सहपाठियों को दिया सफलता का श्रेय……*

Chhattisgarh3 years ago

*watch video ब्रेकिंग:- युद्धवीर सिंह जूदेव का पार्थिव शरीर एयर एम्बुलेंस विशेष विमान से जशपुर के आगडीह पहुंचा, पार्थिव शरीर आते ही युवा रो पड़े और लगाए जयकारे, आगडीह से विजय विहार के लिए रवाना, दिग्गज भाजपा नेताओं के साथ युवाओं ने इस जज्बे के साथ दी सलामी और बाइक में जयकारे लगाते हुए उसी अंदाज में की अगुआई जब संसदीय सचिव बनकर आये थे जशपुर…….*

Advertisement