Connect with us


Chhattisgarh

*breking jashpur:- क्या जशपुर के प्राकृतिक सौंदर्य में लगेगा ग्रहण..?क्या बाक्साइड खनन के नाम पर जशपुर को उजाड़ने की हो रही है साजिश…?क्या जशपुर की जनता और जनप्रतिनिधि बचा पाएंगे जशपुर की शाख..?पढ़िए ग्राउण्ड जीरो ई न्यूज़ की एक्सक्लुसिव रिपोर्ट…।*

Published

on

 

जशपुरनगर। कहा जाता है कि जशपुर में अगर सबसे पहले कुछ होता है तो वह है सूर्योदय !
इसके अलावा सबकुछ यहाँ बाद में होता है।
छत्तीसगढ़ के पूर्वांचल में स्थित जशपुर के भौगोलिक स्थिति को यदि देखा जाए तो समुद्र तल से 2500 फिट ऊपर स्थित होने के कारण प्रदेश में जशपुर की अलग ही पहचान है।और इसी का प्रभाव है कि जशपुर का प्राकृतिक सौंदर्य और यहां की आबोहवा बिल्कुल अलग है।सिर्फ प्राकृतिक खूबसूरती ही नहीं बल्कि यहां रहने वाले 13 प्रकार से भी अधिक जनजातियों के रीति रिवाज परम्परायें भी जशपुर को प्रदेश से अलग करती हैं।
उपरोक्त सब कुछ होने के बावजूद पिछले कुछ वर्षों से उद्योपतियों की नजर जशपुर पर पड़ी हुई हैं जहां एक तरफ बिना किसी इंफ्रास्ट्रक्चर के ही जशपुर के टाँगरगांव में स्टील प्लांट खोलने की योजना थी जो जनता के विरोध के कारण ठंडे बस्ते में पड़ी हुई है। वहीं दूसरी तरफ चार दिन पहले पर्यावरण मंत्रालय के द्वारा कलेक्टर जशपुर को प्रेषित वह पत्र जिसमें जशपुर के सरधापाठ में बाक्साइड उत्खनन को लेकर दिनांक 22/9/2022 को आयोजित जनसुनवाई करने का निर्देश सोशल मीडिया में वायरल होते ही एक बार फिर बाक्साइड खनन का जीन बोतल से फिर एक बार आ गया है।
हालांकि उम्मीद थी कि उक्त पत्र के वायरल होते ही एक बार फिर से जशपुर में उक्त मुद्दे को लेकर भूचाल आ जायेगा ।किन्तु चार दिन बीतने के बाद भी अब तक इस मुद्दे को लेकर जशपुर की जनता ,समाजिक संगठन और जनप्रतिनिधियों में कोई हलचल दिखाई नही दे रही है।हालाकिं कुछ वेब पोर्टलों में विरोध के स्वर दिखाई दे रहे हैं लेकिन उनको भी लेकर लोग यही बोलते दिखाई दे रहे हैं कि ऐसे विरोध से कुछ होने वाला नहीं है।
बहरहाल घुम फिरकर लोगों में यह विश्वास है कि जैसे स्टील प्लांट स्थापना को लेकर पूर्व मंत्री गणेश राम भगत के नेतृत्व में जनजातिय सुरक्षा मंच ने जशपुर को बचाने में हर सम्भव योगदान दिया है उसी तरह बाक्साइड उत्खनन को लेकर भी जशपुर के प्राकृतिक सौंदर्य को बचाने में उनका अहम योगदान रहेगा ।
बहरहाल अब देखना होगा कि जशपुर के प्राकृतिक सौंदर्य और यहां के वनवासियों के नाम पर राजनीति करने वाले व्यक्ति और संगठन इस मुद्दे को लेकर क्या रुख अख्तियार करते हैं।

Advertisement

Ad

ad

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

IMG 20240302 WA0038
Jashpur19 mins ago

*पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा ने की रेंज स्तरीय दोष मुक्ति प्रकरणों की समीक्षा,सरगुजा रेंज के सभी जिलों के लगभग 325 प्रकरणों की समीक्षा कर प्रकरणों का किया निदान,रेंज के सभी जिलों के पुलिस अधीक्षक एवं रेंज के सभी जिलों के लोक अभियोजन अधिकारी रहे उपस्थित…!*

IMG 20240301 WA0335
Jashpur10 hours ago

*Breking jashpur:-सड़क दुर्घटना में चार लोंगो की दर्दनाक मौत,आमने सामने मोटरसाइकिल भिड़ंत में हुआ हादसा,तमाशबीन बना डॉ.अजित कुमार बंदे,छुट्टी लेने के बहाने अस्पताल में बैठकर देखते रहे,जान से तड़पते घायल की जान,देखते-देखते एक कि गई जान,कर्तब्य निर्वहन को लेकर तार-तार हुई मर्यादा,तमासबीन से फिर हुई मानवता शर्मशार..!*

Jashpur15 hours ago

*Breking jashpur:-जशपुर के आरईएस के कार्यपालन अभियंता विपिन राज मिंज को कलेक्टर ने जारी किया कारण बताओ नोटिस,कन्या छात्रावास भवन निर्माण नहीं कराने से नाराज कलेक्टर ने तीन दिवस के भीतर मांगा जवाब,नहीं तो होगी कार्यवाही..!*

Chhattisgarh2 years ago

*बिग ब्रेकिंग :- युद्धवीर सिंह जूदेव “छोटू बाबा”,का निधन, छत्तीसगढ़ ने फिर खोया एक बाहुबली, दबंग, बेबाक बोलने वाला नेतृत्व, बेंगलुरु में चल रहा था इलाज, समर्थकों को बड़ा सदमा, कम उम्र में कई बड़ी जिम्मेदारियां के निर्वहन के बाद दुखद अंत से राजनीतिक गलियारे में पसरा मातम, जिला पंचायत सदस्य से विधायक, संसदीय सचिव और बहुजन हिन्दू परिषद के अध्यक्ष के बाद दुनिया को कह दिया अलविदा..*

Chhattisgarh2 years ago

*जशपुर जिले के एक छोटे से गांव में रहने वाले शिक्षक के बेटे ने भरी ऊंची उड़ान, CGPSC सिविल सेवा परीक्षा में 24 वां रैंक प्राप्त कर किया जिले को गौरवन्वित, डीएसपी पद पर हुए दोकड़ा के दीपक भगत, गुरुजनों एंव सहपाठियों को दिया सफलता का श्रेय……*

Chhattisgarh2 years ago

*watch video ब्रेकिंग:- युद्धवीर सिंह जूदेव का पार्थिव शरीर एयर एम्बुलेंस विशेष विमान से जशपुर के आगडीह पहुंचा, पार्थिव शरीर आते ही युवा रो पड़े और लगाए जयकारे, आगडीह से विजय विहार के लिए रवाना, दिग्गज भाजपा नेताओं के साथ युवाओं ने इस जज्बे के साथ दी सलामी और बाइक में जयकारे लगाते हुए उसी अंदाज में की अगुआई जब संसदीय सचिव बनकर आये थे जशपुर…….*

Advertisement