Connect with us

ad

Jashpur

*संतान की सुख-समृद्धि के लिए अस्ताचलगामी सूर्य को व्रतियों ने दिया अर्घ्‍य, धर्मनगरी कोतबा में हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा छठ महापर्व… *

Published

on

1700416894846

 

कोतबा:-रविवार की शाम छठ पूजा पर शाम को अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य देकर व्रतियों ने संतान के सुखी जीवन की कामना की। छठ पूजा के लिए कोतबा वार्ड क्रमांक 8 में सुकवासुपारा स्थिति तालाब व वार्ड 11 के हाईस्कूल के असुरबन्ध तालाब व वार्ड 1 के सतीघाट शिव धाम को श्रद्धालुओं द्वारा साफ-सफाई कर सजाया गया था। इससे पहले छठ पर्व के दूसरे दिन व्रतियों ने खरना कर छठ मइया की आराधना की। वहीं शनिवार की शाम को खरना का प्रसाद खाने के लिए लोग छठ व्रतियों के घर आते -जाते रहे। इस वजह से शाम को भी नगर में चहल-पहल रही। व्रतियों के घर भी प्रसाद वितरण में लोग व्यस्त रहे। सूर्यास्त के समय रसियाव खाकर व्रतियों ने 36 घंटे का निर्जला व्रत धारण कर लिया है। संतान के सुखी जीवन के लिए सूर्यदेव और छठी मइया की अराधना का चार दिवसीय महापर्व छठ शुक्रवार से शुरू हो चुका है। शनिवार की सुबह से ही खरना के लिए लोग ने तैयारी शुरू कर दी थी। गुड़ व गाय के दूध से बनी खीर का प्रसाद तैयार कर छठ मइया एवं अपने कुल देव को भोग लगाया। साथ ही सूर्यदेव को अर्घ्य देकर व्रत रखा गया। रविवार की शाम कोतबा के सुकवासुपारा स्थिति तालाब में 6 व्रती महिलाएं व असुरबन्ध तालाब में 1 व्रती व सतीघाट शिवधाम छठ घाट में 3 व्रती महिलाओं ने अलग-अलग तीन स्थानों पर बने छठ घाट में कुल 10 व्रती पानी में खड़े होकर अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य दिए। इस दौरान श्रद्धालु सूर्य भगवान की पूजा करते हैं और बांस से बने सूप में तमाम तरह के फल लेकर उनका भोग लगाते हैं। बाद में छठ प्रसाद बनाया जाता है। प्रसाद के रूप में ठेकुआ और चावल के लड्डू बनाते हैं। सोमवार को उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देकर व्रतियों द्वारा का पारण किया जाएगा और छठ पर्व का समापन होगा। श्रद्धालु युवाओं में बताया कि यह पर्व स्वच्छता व शुद्धता का प्रतीक है। इस लिए वे आज सुबह से ही व्रतियों के घर से लेकर छठ घाट सुकवासुपारा स्थिति तालाब असुरबन्ध तालाब तक मुख्य मार्ग व तालाब के रास्ते को झाड़ू कर साफ सफाई की जिसके बाद गाय गोबर से लेपन कर छठ घाट का शुद्धिकरण किया गया। छठ घाटों के रास्ते में व्रतियों के स्वागत को जगह-जगह तोरणद्वार लगाए गए हैं। छठ महापर्व की सारी तैयारी युवाओं ने एकजुटता के साथ स्वेच्छा भाव से किया। छठ घाट के मार्गों को रंग-बिरंगी इलेक्ट्रिक लाइट्स व हैलोजन बल्ब से सजाया गया है।

Advertisement

Ad

ad

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Chhattisgarh3 years ago

*बिग ब्रेकिंग :- युद्धवीर सिंह जूदेव “छोटू बाबा”,का निधन, छत्तीसगढ़ ने फिर खोया एक बाहुबली, दबंग, बेबाक बोलने वाला नेतृत्व, बेंगलुरु में चल रहा था इलाज, समर्थकों को बड़ा सदमा, कम उम्र में कई बड़ी जिम्मेदारियां के निर्वहन के बाद दुखद अंत से राजनीतिक गलियारे में पसरा मातम, जिला पंचायत सदस्य से विधायक, संसदीय सचिव और बहुजन हिन्दू परिषद के अध्यक्ष के बाद दुनिया को कह दिया अलविदा..*

Chhattisgarh3 years ago

*जशपुर जिले के एक छोटे से गांव में रहने वाले शिक्षक के बेटे ने भरी ऊंची उड़ान, CGPSC सिविल सेवा परीक्षा में 24 वां रैंक प्राप्त कर किया जिले को गौरवन्वित, डीएसपी पद पर हुए दोकड़ा के दीपक भगत, गुरुजनों एंव सहपाठियों को दिया सफलता का श्रेय……*

Chhattisgarh3 years ago

*watch video ब्रेकिंग:- युद्धवीर सिंह जूदेव का पार्थिव शरीर एयर एम्बुलेंस विशेष विमान से जशपुर के आगडीह पहुंचा, पार्थिव शरीर आते ही युवा रो पड़े और लगाए जयकारे, आगडीह से विजय विहार के लिए रवाना, दिग्गज भाजपा नेताओं के साथ युवाओं ने इस जज्बे के साथ दी सलामी और बाइक में जयकारे लगाते हुए उसी अंदाज में की अगुआई जब संसदीय सचिव बनकर आये थे जशपुर…….*

Advertisement