Connect with us


Chhattisgarh

*रेत विवाद ने पकड़ा तूल,संघ ने किया अनिश्चित काल तक ढुलाई न करने का एलान,जानिए,किस कारण से नाराज है शहर के ट्रैक्टर संचालक,प्रशासन से…….?*

Published

on

IMG 20221205 WA0000

जशपुरनगर। शहर में अब अनिश्चितकाल तक रेत की ढुलाई नहीं होगी। रविवार को शहर के रणजीता स्टेडियम में आयोजित ट्रक और ट्रेक्टर संघ की बैठक के बाद,इसकी घोषणा की गई। जानकारी देते हुए,संघ के अध्यक्ष सतीश गोस्वामी ने बताया कि बैठक में संघ के सभी सदस्यों ने इस बात पर गहरी नाराजगी जताई कि जिला प्रशासन द्वारा अवैध परिवहन के मामले में की जा रही कार्रवाई में भेदभाव किया जा रहा है। उन्होनें बताया कि रसूखदार वाहन संचालकों के ट्रेक्टरों को जब्त करने के बाद,बिना किसी कार्रवाई के छोड़ दिया जा रहा है। वहीं,आर्थिक रूप से कमजोर वाहन मालिकों के ट्रेक्टरों को 15 दिन से अधिक समय से जब्त कर थाना में खड़ा कर दिया गया है और उन पर 10 हजार से अधिक राशि का शमन शुल्क जमा करने का दबाव बनाया जा रहा है। संघ के बैठक में इस प्रशासनिक भेदभाव का कड़ा विरोध किया किया गया। वाहन मालिकों ने एक स्वर में मांग किया जिस प्रकार,प्रशासन ने दो वाहनों को बिना जुर्माने का छोड़ा है,उसी प्रकार,जब्त किए गए सभी ट्रेक्टरों को छोड़ा जाए। जब तक प्रशासन,इस संबंध में अंतिम निर्णय नहीं ले लेता,वाहन मालिक,ढुलाई का काम बंद रखेगें। जानकारी के लिए बता दें कि छत्तीसगढ़ सरकार ने रेत घाट का संचालन,ग्राम पंचायतों को सौपें जाने के निर्णय के बाद,रेत घाट के निविदा का काम अधर में लटका हुआ है। जशपुर सहित पूरे प्रदेश में रेत,अवैध उत्खनन के भरोसे चल रहा है। इससे एक ओर जहां शासन को रोजाना करोड़ों के राजस्व का नुकसान हो रहा है,वहीं अवैध वसूली के मकड़ जाल में उलझे,रेत कारोबार की वजह से उपभोक्ताओं को भी महंगे रेत खरीदने पड़ रहे हैं। रेत के इस मामले में रेत का परिवहन कर,अपनी आजीविका चलाने वाले वाहन मालिक,चालक और श्रमिक भी संकट में आ गए हैं। अवैध उत्खनन और परिवहन के मामले में प्रशासनिक कार्रवाई से वाहन मालिकों को आर्थिक परेशानी से जुझना पड़ रहा है। इससे नाराज वाहन मालिकों ने शहर में रेत की ढुलाई से हाथ खिंच लिया है। ट्रक और ट्रेक्टर मालिक संघ ने रविवार को अपने बैठक में इस बात की पुरजोर मांग किया कि शासन प्रशासन पहले रेत घाट की व्यवस्था करे और नियमानुसार पीट पास जारी करें। इसके बाद,अगर कोई वाहन अवैध उत्खनन और परिवहन करते हुए पाया जाता है तो उसके विरूद्व कड़ी कार्रवाई करे। इसमें संघ को कोई आपत्ति नहीं है। लेकिन,जब तक घाट की व्यवस्था न हो,वाहन मालिक और इस पर आश्रित श्रमिकों की आजीविका का ख्याल प्रशासन को रखना ही होगा।

Advertisement

Ad

ad

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Chhattisgarh2 years ago

*बिग ब्रेकिंग :- युद्धवीर सिंह जूदेव “छोटू बाबा”,का निधन, छत्तीसगढ़ ने फिर खोया एक बाहुबली, दबंग, बेबाक बोलने वाला नेतृत्व, बेंगलुरु में चल रहा था इलाज, समर्थकों को बड़ा सदमा, कम उम्र में कई बड़ी जिम्मेदारियां के निर्वहन के बाद दुखद अंत से राजनीतिक गलियारे में पसरा मातम, जिला पंचायत सदस्य से विधायक, संसदीय सचिव और बहुजन हिन्दू परिषद के अध्यक्ष के बाद दुनिया को कह दिया अलविदा..*

Chhattisgarh2 years ago

*जशपुर जिले के एक छोटे से गांव में रहने वाले शिक्षक के बेटे ने भरी ऊंची उड़ान, CGPSC सिविल सेवा परीक्षा में 24 वां रैंक प्राप्त कर किया जिले को गौरवन्वित, डीएसपी पद पर हुए दोकड़ा के दीपक भगत, गुरुजनों एंव सहपाठियों को दिया सफलता का श्रेय……*

Chhattisgarh2 years ago

*watch video ब्रेकिंग:- युद्धवीर सिंह जूदेव का पार्थिव शरीर एयर एम्बुलेंस विशेष विमान से जशपुर के आगडीह पहुंचा, पार्थिव शरीर आते ही युवा रो पड़े और लगाए जयकारे, आगडीह से विजय विहार के लिए रवाना, दिग्गज भाजपा नेताओं के साथ युवाओं ने इस जज्बे के साथ दी सलामी और बाइक में जयकारे लगाते हुए उसी अंदाज में की अगुआई जब संसदीय सचिव बनकर आये थे जशपुर…….*

Advertisement