Connect with us

ad

Chhattisgarh

*दो साल के मासूम रेहान का होगा निशुल्क इलाज, सीएम कैम्प बगिया के निर्देश पर कलेक्टर डॉ रवि मित्तल ने की पहल, मेडिकल कॉलेज रायपुर से इलाज कराकर वापस घर लौटी सुकान्ति ने मुख्यमंत्री का जताया आभार…….*

Published

on

IMG 20240224 WA0274

 

जशपुरनगर। सीएम कैंप बगिया के निर्देश पर कलेक्टर डॉ रवि मित्तल ने 2 साल के मासूम रेहान तिर्की के निःशुल्क इलाज के लिए पहल की है। जिले के कांसाबेल ब्लाक के ग्राम पंचायत कोगाबहरी के आश्रित ग्राम नरियरडांड़ निवासी रिहान के पिता ईश्वर तिर्की ने,अपने बेटे के इलाज में सहायता के लिए,सीएम कैम्प में आयोजित जनदर्शन में सहायता मांगी थी। ईश्वर तिर्की ने बताया कि उसके बेटे के मुंह में जन्म से ही समस्या है। इस कारण वह बोल पाने में असमर्थ है। स्थानीय स्तर पर उन्होनें बहुत इलाज कराया। लेकिन,कोई फायदा नहीं हुआ। डाक्टर उसे इलाज के लिए बड़े अस्पताल में दिखाने की सलाह दी थी. इस पर स्वजनों ने रायपुर के एक निजी अस्पताल मे उसका इलाज कराया. इसके बाद भी रेहान बोल नहीं पा रहा है.सीएम कैम्प के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग की चिरायु टीम ने रेहान की जांच की है। टीम ने मासूम रेहान को क्लीफ्ट लिप पैलेट नामक बीमारी से पीड़ित के रूप में चिन्हाकिंत किया है। चिरायु टीम के प्रभारी डॉ अरविन्द रात्रे ने बताया कि कलेक्टर डा रवि मित्तल के निर्देश पर रेहान का रायपुर में इलाज कराने की तैयारी पूरी कर ली गईं है.उन्होंने बताया कि रेहान का इलाज रायपुर के निजी चिकित्सालय मे निशुल्क कराया जाएगा. इसके लिए, उसे स्वजनों और चिरायु टीम के साथ रायपुर भेजा जाएगा।

*मेडिकल कालेज से घर पहुंची सुकांति -*

भोजन पकाने के दौरान,दुर्घटनावश आग से झुलस कर,दिव्यांगता का शिकार हुई महिला सुकांति चौहान पति नंदकुमार चौहान,रायपुर के डीकेएस अस्पताल में उपचार के बाद वापस अपने घर आ गई है। आग में सुकांति का दोनों पैर बुरी तरह से झुलस गया था। स्थानीय अस्पताल में इलाज के बाद वह स्वस्थ तो हो गई थी,लेकिन चल फिर नहीं पा रही थी। 3 फरवरी को सुकांति और उसके पति नंदकुमार चौहान ने इलाज में सहायता के लिए मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय से अनुरोध किया था।मुख्यमंत्री के निर्देश पर सुकांति को एंबुलेंस से रायपुर ले जा कर डीकेएस अस्पताल में भर्ती कराया गया था।यहां चिकित्सकों ने सुकांति के पैरों का सफल आपरेशन किया है। आपरेशन के बाद,15 दिनों तक सुकांति डाक्टरों की निगरानी में रही। अब वह वापस अपने घर पहुंच कर,आराम कर रही है। आशा की जा रही है कि जल्द ही वह सामान्य लोगों की तरह चल फिर सकेगी। मेडिकल कालेज में उपचार की व्यवस्था के लिए सुकांति और उसके पति नंदकुमार ने मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय का आभार व्यक्त किया है। उल्लेखनीय है कि बीते दिनों बगिया मे सीएम कैम्प कार्यालय के लोकार्पण के बाद मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने फोन पर डीकेएस अस्पताल मे उपचार के दौरान सुकान्ति से बात की थी और उसका हालचाल पूछ कर, जल्द स्वस्थ होने की शुभकामनायें दी थी.

*अब तक 105 जरूरतमंदो को मिली सहायता*

जशपुर के माटीपुत्र विष्णुदेव साय के मुख्य्मंत्री बनने के बाद से सीएम कैम्प बगिया सहायता की आशा लेकर जशपुर सहित छत्तीसगढ़ के अन्य जिलों से पहुँचे, 105 जरूरतमंदो को सहायता पहुंचाई जा चुकी है. इनमें इलाज के लिये सहायता के साथ सड़क दुर्घटना मे घायलो को एम्बुलेंस उपलब्ध कराना,शव वाहन उपलब्ध कराना जैसे कई मामले शामिल हैँ. सीएम कैम्प बगिया मे प्रतिदिन जनदर्शन का आयोजन किया जाता है. प्राप्त होने वाले सभी आवेदनों को तत्काल संबंधित विभागों को भेज कर, कार्रवाई के लिए निर्देशित किया जाता है।

Advertisement

Ad

ad

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Chhattisgarh3 years ago

*बिग ब्रेकिंग :- युद्धवीर सिंह जूदेव “छोटू बाबा”,का निधन, छत्तीसगढ़ ने फिर खोया एक बाहुबली, दबंग, बेबाक बोलने वाला नेतृत्व, बेंगलुरु में चल रहा था इलाज, समर्थकों को बड़ा सदमा, कम उम्र में कई बड़ी जिम्मेदारियां के निर्वहन के बाद दुखद अंत से राजनीतिक गलियारे में पसरा मातम, जिला पंचायत सदस्य से विधायक, संसदीय सचिव और बहुजन हिन्दू परिषद के अध्यक्ष के बाद दुनिया को कह दिया अलविदा..*

Chhattisgarh3 years ago

*जशपुर जिले के एक छोटे से गांव में रहने वाले शिक्षक के बेटे ने भरी ऊंची उड़ान, CGPSC सिविल सेवा परीक्षा में 24 वां रैंक प्राप्त कर किया जिले को गौरवन्वित, डीएसपी पद पर हुए दोकड़ा के दीपक भगत, गुरुजनों एंव सहपाठियों को दिया सफलता का श्रेय……*

Chhattisgarh3 years ago

*watch video ब्रेकिंग:- युद्धवीर सिंह जूदेव का पार्थिव शरीर एयर एम्बुलेंस विशेष विमान से जशपुर के आगडीह पहुंचा, पार्थिव शरीर आते ही युवा रो पड़े और लगाए जयकारे, आगडीह से विजय विहार के लिए रवाना, दिग्गज भाजपा नेताओं के साथ युवाओं ने इस जज्बे के साथ दी सलामी और बाइक में जयकारे लगाते हुए उसी अंदाज में की अगुआई जब संसदीय सचिव बनकर आये थे जशपुर…….*

Advertisement