Connect with us

ad

Jashpur

*सरकारी दरिंदों पर कार्रवाई से आख़िर क्यों बच रहा है प्रशासन?, दिव्यांग बच्चियों के साथ हुए अनाचार पर अब तक कार्रवाई नहीं होने पर भड़के परिजन, 8 को करेंगे एक दिवसीय धरना प्रदर्शन…क्या कहते हैं परिजन, देखिए वीडियो*

Published

on

जशपुरनगर,(राकेश गुप्ता):- खबर जशपुर जिले से आ रही है जहां 6 दिव्यांग बच्चियों के साथ हुए अनाचार के मामले में अब तक कार्रवाई नहीं होने पर परिजन भड़क उठे हैं। परिजन अब 8 फरवरी को जिले के उसी दिव्यांग प्रशिक्षण केंद्र के सामने एक दिवसीय धरना प्रदर्शन करेंगे। जिसकी सूचना उन्होंने कलेक्टर को दे दिया है।आपको बता दें की जशपुर जिले के इतिहास में पहली बार 22 सितम्बर 2021 को बेहद शर्मसार करने वाला कृत्य करते हुए 6 नाबालिक मूक बधिर दिव्यांग बच्चियों के साथ समर्थ दिव्यांग प्रशिक्षण केंद्र जशपुर में ही वहां मौजूद सरकारी कर्मचारियों के द्वारा हैवानियत की सारे हदें पार करते हुए बच्चियों के साथ छेड़छाड़ और अनाचार किया गया था।जिसकी खबर भी ग्राउंड जीरो न्यूज में कई बार प्राथमिकता से उठाया है।वहीं खबर के प्रकाशित होने के बाद इस मामले में बहुत राजनीति भी हुई।क्या सत्ता पक्ष के नेता और क्या विपक्ष के नेता सभी ने अपनी अपनी भूमिका निभाते हुए राजनीति रोटियां सेंक ली, परन्तु कुछ दिन बीतने पर सभी ने उन बच्चियों को उसी हालत में छोड़ दिया।बहरहाल जो भी हो, पर उन बच्चियों के साथ हुए इस हैवानियत से परिजन आज भी बाहर नही निकल पाए हैं। आखिर कोई अपनी बच्चियों के साथ हुई ऐसी दरिंदगी को कैसे भूला पाएगा। वहीं इतने बड़े घटनाक्रम पर अब तक दो ही आरोपियों पर कार्रवाई हुई है और अन्य आरोपियों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई है।अब पुनः अन्य आरोपियों पर कार्रवाई कर न्याय दिलाने की मांग को लेकर दर-दर भटकने के बाद परिजन ने अब धरना-प्रदर्शन करने का मन बना लिया है।बड़ा सवाल यहां यह भी उठता है कि आखिर इस पूरी घटना का सबूत,बयान और तथ्यों के सामने आने के बाद भी आखिर इस मामले में अब तक पूर्ण रूप से कार्रवाई क्यों नहीं हो रही है, कड़ी कार्रवाई करने से प्रशासन बच क्यों रहा है? जिससे कि नाबालिक दिव्यांग बच्चियों के परिजन को सांत्वना मिल सके। यह भी कहना अनुचित नही होगा कि शायद पूरे देश मे जशपुर की इस घटना की निंदा तो जमकर हुई है। परन्तु इतने बड़े शर्मसार करने वाले घटनाक्रम के बाद भी अगर मामले में परिजन को आंदोलन का रुख अख्तियार करना पड़े, तो भी इससे बड़ी विडम्बना और क्या हो सकती है?
*वहीं 8 फरवरी को होने वाले धरना-प्रदर्शन पर जब हमने ग्राउंड जीरो न्यूज के माध्यम से परिजन से बात किया तो उन्होंने बहुत ही मार्मिक शब्दों में कहा कि घटना में कई आरोपी थे, परन्तु अब तक मात्र दो ही आरोपियों पर कार्रवाई हुई है। जिससे वे न्याय की गुहार लगाते हुए और भी अन्य आरोपियों पर कार्रवाई करने की लगातार मांग कर रहे हैं। उन्होंने आगे प्रशासन पर भी गम्भीर आरोप लगाते हुए कहा कि हमारी दिव्यांग बच्चियों के साथ हुए इस हैवानियत की घटना के बाद आखिर हमें सूचना क्यों नहीं दी गई?उन्हें अनाथों की तरह फेंक दिया गया। उन्होंने आगे बताया कि इस पूरी घटना की जानकारी लगते ही वे उन बच्चियों से मिलने केंद्र भी गए, परन्तु उन्हें बच्चियों से मिलने तक नही दिया गया।उन्होंने बहुत ही मार्मिक शब्दों में कहा कि अब आखिर न्याय के लिए हम कहाँ जाएं? इसी कारण यह एक दिवसीय धरना प्रदर्शन करना पड़ रहा है।
बहरहाल, मामले में पुनः न्याय की मांग को लेकर धरना/प्रदर्शन होने की सूचना के बाद प्रशासन क्या कदम उठाता है? धरना-प्रदर्शन के बाद भी उनको न्याय मिल पाता है या नही? यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा। पर पीड़ित बच्चियों के परिजन के धरना-प्रदर्शन की सूचना के बाद एक बार फिर जिले की राजनीति भी गरमाने की संभावना दिख रही है।

IMG 20220201 WA0123

Advertisement

ad

Ad

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Chhattisgarh3 years ago

*बिग ब्रेकिंग :- युद्धवीर सिंह जूदेव “छोटू बाबा”,का निधन, छत्तीसगढ़ ने फिर खोया एक बाहुबली, दबंग, बेबाक बोलने वाला नेतृत्व, बेंगलुरु में चल रहा था इलाज, समर्थकों को बड़ा सदमा, कम उम्र में कई बड़ी जिम्मेदारियां के निर्वहन के बाद दुखद अंत से राजनीतिक गलियारे में पसरा मातम, जिला पंचायत सदस्य से विधायक, संसदीय सचिव और बहुजन हिन्दू परिषद के अध्यक्ष के बाद दुनिया को कह दिया अलविदा..*

Chhattisgarh3 years ago

*जशपुर जिले के एक छोटे से गांव में रहने वाले शिक्षक के बेटे ने भरी ऊंची उड़ान, CGPSC सिविल सेवा परीक्षा में 24 वां रैंक प्राप्त कर किया जिले को गौरवन्वित, डीएसपी पद पर हुए दोकड़ा के दीपक भगत, गुरुजनों एंव सहपाठियों को दिया सफलता का श्रेय……*

Chhattisgarh3 years ago

*कोरोना को लेकर छत्तीसगढ़ प्रशासन फिर हुआ अलर्ट, दूसरे देशों से छत्तीसगढ़ आने वालों की स्क्रीनिंग और जानकारी जुटाने प्रदेश के तीनों हवाई अड्डों पर हेल्प डेस्क स्थापित करने के निर्देश, स्वास्थ्य विभाग ने परिपत्र जारी कर सभी कलेक्टरों को कोरोना जांच और टीकाकरण में तेजी लाने कहा*

Advertisement