Connect with us

ad

Jashpur

*गंझीयाडीह माँ जगदम्बा बनभौरी मन्दिर में भव्य कलश यात्रा के साथ चैत्र नवरात्र महोत्सव का हुवा शुभारंभ*

Published

on

InShot 20240410 072209093

 

कोतबा:- शक्ति का पर्व चैत्र नवरात्रि प्रतिपदा हिन्दू नववर्ष का शुभारंभ मंगलवार से शुरू हो रहा है।अम्बानगर ग्राम गंझीयाडीह माँ जगदम्बा बनभौरी मन्दिर के दरबार को विशेष सजा धजा कर तैयार किया गया है। जगदम्बा वनभोरी मंदिर अम्बानगर ग्राम गंझियाडीह के ग्रामीण भक्तों व महिलाओं द्वारा गाजे – बाजे व माता रानी के जयकारे के साथ विशाल कलश शोभा यात्रा निकाली गई।पंडित मनीष कृष्ण शास्त्री के निर्देशन में वैदिक मंत्रोच्चार के साथ निकाली कलश यात्रा गांव का भ्रमण करते हुए कालोदरहा डुमरिया नदी से जल भर कर कुंवारी कन्याओं व माता बहनों की शोभा यात्रा पुन: यज्ञ स्थल गंझियाडीह धाम पर लौट गई। मां भगवती के प्रथम स्वरूप शैलपुत्री की पूजा अर्चना की। पंडित श्री शास्त्री ने बताया कि मंदिर गंझियाडीह में स्थापित माता बनभौरी के रूप में महाशक्ति की चैत्र नवरात्रा के अवसर पर विशेष पूजा की जाती है। मंदिर में नवग्रह की प्रतिमा के साथ कुल सरस्वती, गणेश ,हनुमान सहित सभी देवी देवताओं की प्रतिमा स्थापित है। नवरात्रा के अवसर पर प्रत्येक दिन सभी देवी देवताओं के साथ मां भगवती के विशेष पूजा अर्चना व महाआरती की जाएगी ।वही पहले दिन कलश यात्रा के बाद वैदिक मंत्रोच्चार से देवी का आह्वान किया गया साथ ही वेदीपुजन,अखण्ड ज्योति प्रज्वलन हवन यज्ञ आरंभ किया गया । चैत्र नवरात्रि महोत्सव के साथ महालक्ष्मी हवनात्मक महायज्ञ का आयोजन भी किया जा रहा है।इन बार चैत्र नवरात्रि में विशेष योग बन रहे है। जिसमे अम्रत सिद्धि योग ,सर्वार्थ सिद्धि योग और महालक्ष्मी योग शामिल हैं।जिनके संधिकाल में ये महालक्ष्मी महायज्ञ प्रारम्भ होगा ।इस बार नवरात्रि में विशेष रूप से भव्य आयोजन किया जा रहा है।माँ बनभौरी जगदम्बा मंदिर गंझियाडीह में 9 अप्रैल मंगलवार को अखण्ड दिप प्रज्वलन, वेदी पूजन,हवन यज्ञ प्रारंभ किया जा रहा है। इसके साथ ही आवाहन,वेदी पूजा,अखंड ज्योति प्रज्जवलन हवन यज्ञ प्रारम्भ होगा। मंदिर के पुजारी और व्यवस्थापक आचार्य मनीष कृष्ण शास्त्री ने बताया कि 9 अप्रैल से 17 अप्रैल तक प्रतिदिन प्रातः 7:30 बजे आरती और शाम 7:30 बजे महाआरती सहित विविध कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे है।

0.दुल्हन की तरह सजाया गया है मंदिर

माँ बनभौरी जगदम्बा मंदिर गंझियाडीह को आकर्षक रंग रोगन कर दुल्हन की तरह सजाया गया है,चारो तरह साफ सफाई कर आकर्षक इलेक्ट्रानिक लाइटों की व्यवस्था भी किया गया है।

0. होती है मुरादे पूरी
माँ जगदम्बा मंदिर गंझियाडीह आस्था का केंद्र है यहां उड़ीसा,मध्यप्रदेश,सहित विभिन्न क्षेत्रों के लाखों लोग यहां दर्शन करने आते है,यहां आने वाले लोगो का कहना है कि उनके मांगे मनोरथ पूरा होता है,मनोकामना किये हर कामना पूर्ण होने से यहां हर वर्ष श्रद्धालुओं का तांता लगा रहता है,नवरात्रि पर्व के दौरान पूरा क्षेत्र और गाँव भाव विभोर होकर भक्ति में डूब जाता है रोज दिन सुबह शाम स्थानीय लोगो द्वारा बड़ी संख्या में एकत्रित होकर आरती भक्ति में सराबोर होकर भजन कीर्तन करते है।

Advertisement

Ad

ad

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Chhattisgarh3 years ago

*बिग ब्रेकिंग :- युद्धवीर सिंह जूदेव “छोटू बाबा”,का निधन, छत्तीसगढ़ ने फिर खोया एक बाहुबली, दबंग, बेबाक बोलने वाला नेतृत्व, बेंगलुरु में चल रहा था इलाज, समर्थकों को बड़ा सदमा, कम उम्र में कई बड़ी जिम्मेदारियां के निर्वहन के बाद दुखद अंत से राजनीतिक गलियारे में पसरा मातम, जिला पंचायत सदस्य से विधायक, संसदीय सचिव और बहुजन हिन्दू परिषद के अध्यक्ष के बाद दुनिया को कह दिया अलविदा..*

Chhattisgarh3 years ago

*जशपुर जिले के एक छोटे से गांव में रहने वाले शिक्षक के बेटे ने भरी ऊंची उड़ान, CGPSC सिविल सेवा परीक्षा में 24 वां रैंक प्राप्त कर किया जिले को गौरवन्वित, डीएसपी पद पर हुए दोकड़ा के दीपक भगत, गुरुजनों एंव सहपाठियों को दिया सफलता का श्रेय……*

Chhattisgarh3 years ago

*watch video ब्रेकिंग:- युद्धवीर सिंह जूदेव का पार्थिव शरीर एयर एम्बुलेंस विशेष विमान से जशपुर के आगडीह पहुंचा, पार्थिव शरीर आते ही युवा रो पड़े और लगाए जयकारे, आगडीह से विजय विहार के लिए रवाना, दिग्गज भाजपा नेताओं के साथ युवाओं ने इस जज्बे के साथ दी सलामी और बाइक में जयकारे लगाते हुए उसी अंदाज में की अगुआई जब संसदीय सचिव बनकर आये थे जशपुर…….*

Advertisement