Connect with us

ad

Jashpur

*आयोजन:-भक्तिमय संगीत की धुन पर गरबा नृत्य का आयोजन,..थिरकते दिखेंगे जशपुरवासी,..गरबा महोत्सव की तैयारी को लेकर हुई बैठक आहूत,..बालाजी समिति के सदस्यों से महत्वपूर्ण विषयों पर की गई चर्चा,..गरबा में प्रतिभागी बनने पंजीयन एवं प्रशिक्षण 17 सितम्बर से शुरू..,05 अक्टूबर को होगा दशहरा महोत्सव का आयोजन..!*

Published

on

IMG 20220916 WA0164

 

 

जशपुरनगर 16 सितम्बर 2022/ जशपुर जिले में प्रतिवर्ष बालाजी जनकल्याण समिति के द्वारा विभिन्न धार्मिक एवं सामाजिक क्षेत्रों में ज़िले के विकास एवं यहाँ की परम्परा को बनाये रखने के लिए समय-समय पर कई कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है। इसी कड़ी में बालाजी समिति के द्वारा कोरोना काल के पश्चात 2 साल बाद अधिक उत्साह के साथ इस वर्ष भी नवरात्र के अवसर पर गरबा महोत्सव धूम धाम,भक्ति एवं उत्साह के साथ आयोजन किया जा रहा है। जिसकी तैयारियों को लेकर समिति के सदस्यों द्वारा बालाजी मंदिर में एक बैठक का आयोजन कर विभिन्न गतिविधियों के बारे में विस्तार से चर्चा किया गया।

IMG 20220916 WA0163

इस अवसर पर समिति के अध्यक्ष श्री मनोजरमाकांत मिश्र, सर्व श्री संतोष स्वर्णकार,संजय अग्रवाल, शरद साहू, गौतम झा, यसवंत स्वर्णकार, राकेश मिश्रा, समर विजय प्रसाद सिंह, राजू गुप्ता, नकुल साहू, ललित साहू,कमलेस्वर सारथी एवं महिला सदस्य भी उपस्थिति थे।
बालाजी जनकल्याण समिति के अध्यक्ष श्री मनोजरमाकांत मिश्र ने बताया कि समिति के द्वारा प्रतिवर्ष गरबा महोत्सव का आयोजन किया जाता है। जिसमें ज़िले भर के श्रद्धालु इस महोत्सव में हिस्सा लेने पहुचते है। जिसके लिये गरबा के पूर्व बालाजी मंदिर प्रांगण में गरबा का विशेष प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है। जिसके बाद 9 दिन गरबा में यहाँ के श्रद्धालु झूम उठते है। जिसे दिखने ज़िले भर के लोगों की भीड़ बड़ी संख्या में आती है। जशपुर इस समय पूरी तरह से रंग बिरंगे लाइटों से सजा होता है। जशपुर के रहवासी भी पूरे नवरात्र में अपने परिवार के साथ घरों से निकल कर अपनी श्रद्धा भक्ति के साथ मंदिरों में दर्शन और गरबा देखने निकलते है। जिले में रात्रि 10 बजे तक नवरात्र में भीड़ उमड़ी दिखाई पड़ती है। कोरोना काल के पश्चात 2 वर्ष के बाद जशपुर जिले में गरबा महोत्सव कार्यक्रम का आयोजन बड़े ही उत्साह के साथ भक्ति एवं संगीत के साथ होगा। जिसका जशपुरवाशी बेशब्री से इंतजार में है।

गरबा समिति का गठन

बालाजी समिति के द्वारा प्रतिवर्ष गरबा के सफल औऱ नए योजनाओं को सामने लाने हेतु बालाजी समिति के सदस्यों में से ही प्रतिवर्ष अलग-अलग सदस्यों का गरबा महोत्सव के लिये गरबा समिति का गठन किया जाता है। इस वर्ष भी बालाजी समिति के द्वारा नए गरबा समिति के हाथों में महोत्सव की तैयारियों के लिये जिम्मेदारी सौंपी गई है।

गरबा में हिस्सा लेने पंजीयन प्रशिक्षण 17 सितम्बर से प्रारंभ

समिति द्वारा गरबा महोत्सव में शामिल होने वाले प्रतिभागियों हेतु पंजीयन भी प्रारम्भ कर दिया गया है। जिसके लिये शुल्क का भी निर्धारण किया गया है। पंजीयन के पश्चात प्रतिभागियों को आईडी कार्ड भी प्रदान किया जाएगा। जिसमे यह उल्लेखित होगा कि प्रतिभागी को से ग्रुप में गरबा करेगा। पंजीयन के बाद निः शुल्क गरबा प्रषिक्षण भी समिति के द्वारा दिया जा रहा है। जो को 17 सितम्बर से प्रारंभ होगी। इच्छुक प्रतिभागी गरबा में शामिल होने के लिए अपना पंजीयन बालाजी मंदिर में शाम 5.30 से करा सकते है या इस सम्बंध में अधिक जानकारी के लिये बालाजी मंदिर में भी सम्पर्क किया जा सकता है।

गरबा नृत्य के लिये बनेंगे तीन समुह

नवरात्र में आयोजित गरबा महोत्सव में गरबा और डांडिया नृत्य के लिए छोटे बच्चे से लेकर बड़े बुजुर्ग तक इसमें हिस्सा लेते है। जिसके लिये समिति इन्हें तीन समूहों में विभाजित कर गरबा नृत्य कराती है। इस नृत्य में सब जूनियर, जूनियर, सीनियर तीन ग्रुप बनाया जाता है। और बारी बारी से इस ग्रुप के द्वारा मधुर संगीत भक्ति मय गानों में सूंदर-सूंदर परिधान में थिरकते देखते है। जिसे देखने के बाद दर्शको के पैर भी अपने आप थिरकना शुरू हो जाता है
सांस्कृतिक कार्यक्रम, झांकी प्रदर्शन के साथ सजेगा विशेष पंडाल समिति के द्वारा नवरात्र के अंतिम 4 दिनों तक विशेष सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन लगातार किया जाएगा।। इन चारों दिन झांकी भी देखने को मिलेगा। समिति के द्वारा मिली जानकारी के अनुसार विशेष रूप से रायपुर के कलाकारों एवं बालाजी समिति के संगीत कलाकारों के द्वारा धमाकेदार संगीत कार्यक्रम का आयोजन भी किया जाएगा । साथ ही 5 अक्टूबर को दशहरा उत्सव का भी आयोजन किया गया है। उत्सव में प्रतिवर्ष की भांति जशपुरवाशी भी बड़ी ही उत्साह के साथ सम्मिलित होंगे।

Advertisement

Ad

ad

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Chhattisgarh3 years ago

*बिग ब्रेकिंग :- युद्धवीर सिंह जूदेव “छोटू बाबा”,का निधन, छत्तीसगढ़ ने फिर खोया एक बाहुबली, दबंग, बेबाक बोलने वाला नेतृत्व, बेंगलुरु में चल रहा था इलाज, समर्थकों को बड़ा सदमा, कम उम्र में कई बड़ी जिम्मेदारियां के निर्वहन के बाद दुखद अंत से राजनीतिक गलियारे में पसरा मातम, जिला पंचायत सदस्य से विधायक, संसदीय सचिव और बहुजन हिन्दू परिषद के अध्यक्ष के बाद दुनिया को कह दिया अलविदा..*

Chhattisgarh3 years ago

*जशपुर जिले के एक छोटे से गांव में रहने वाले शिक्षक के बेटे ने भरी ऊंची उड़ान, CGPSC सिविल सेवा परीक्षा में 24 वां रैंक प्राप्त कर किया जिले को गौरवन्वित, डीएसपी पद पर हुए दोकड़ा के दीपक भगत, गुरुजनों एंव सहपाठियों को दिया सफलता का श्रेय……*

Chhattisgarh3 years ago

*watch video ब्रेकिंग:- युद्धवीर सिंह जूदेव का पार्थिव शरीर एयर एम्बुलेंस विशेष विमान से जशपुर के आगडीह पहुंचा, पार्थिव शरीर आते ही युवा रो पड़े और लगाए जयकारे, आगडीह से विजय विहार के लिए रवाना, दिग्गज भाजपा नेताओं के साथ युवाओं ने इस जज्बे के साथ दी सलामी और बाइक में जयकारे लगाते हुए उसी अंदाज में की अगुआई जब संसदीय सचिव बनकर आये थे जशपुर…….*

Advertisement